वैदिक कृषि ४ – कृषि में बुवाई की जानकारी (कब, कैसे, क्यों)

 जीवंती स्वधया अन्नेन मर्त्यः  मनुष्य के जीवन को सुखमय बनाने हेतु अन्न की मृत्यु होती है|  वेदों में, विभिन्न प्रकार

Read more

वैदिक कृषि ३ – कृषि में सिंचाई का महत्व और तरीके (वर्षा, नदी और कुँए)

किसानों के लिए अच्छी फसल के लिए सिंचाई एक बहुत ही महत्वपूर्ण पहलू है। किसान मानसून पर बहुत निर्भर थे।

Read more

वैदिक कृषि २ – कृषि में जुताई का महत्व

वैदिक काल के समय के लगभग 3000 ई.पू. कई वैदिक ग्रंथ हैं जिनमें जैविक खेती की सामग्री है। ऋषि प्रकृति

Read more

वैदिक कृषि १ – कृषि के लिए मिट्टी क्यों और कैसे तैयार करें

“अक्षय दिव्य कृश्मित क्रशस्वाहा”                                

Read more
Close Bitnami banner
Bitnami